शेन वॉर्न डेमिस: अपनी उंगलियों से जादू करने वाले सबसे अमीर खिलाड़ियों में से एक शेन वार्न इतनी दौलत के मालिक थे।

क्रिकेट के इतिहास के सबसे प्रभावशाली स्पिनर शेन वॉर्न नो मोर इस दुनिया में नहीं रहे। ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के महान गेंदबाज का 52 साल की उम्र में निधन हो गया है। शुक्रवार, 4 मार्च को वॉर्न ने थाईलैंड में अपने विला में अंतिम सांस ली। 1992 में अपने अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत करने वाले वॉर्न को अपना नाम बनाने में देर नहीं लगी और एक बार उनका नाम जुबान पर आ गया तो यह कायम रहा। सिर्फ शोहरत ही नहीं शेन वॉर्न ने भी मैदान पर खूब पैसा कमाया और खूब पैसा कमाया। भारतीय खिलाड़ियों के बाहर, वह उन कुछ क्रिकेटरों में से एक थे जिनकी ब्रांड वैल्यू बहुत बड़ी थी। क्रिकेट से सन्यास लेने के बाद भी उनकी ब्रांड वैल्यू बनी रही और उन्होंने खूब पैसा कमाया (शेन वार्न की नेट वर्थ) ।

लगभग 15 साल के अंतरराष्ट्रीय करियर के बाद, वार्न ने कई वर्षों तक फ्रैंचाइज़ी क्रिकेट भी खेला और कोचिंग और कमेंट्री में संलग्न रहना जारी रखा। सेवानिवृत्ति के बाद, वह एक क्रिकेट विशेषज्ञ के रूप में कई प्रमुख खेल चैनलों से जुड़े और उनसे बहुत पैसा कमाया। इतना ही नहीं, शेन वार्न कई उत्पादों का विज्ञापन भी कर चुके हैं और विभिन्न व्यवसायों में शामिल हो गए हैं। इनमें ‘जीन’ ब्रांड ‘सेवन जीरो आठ’ भी शामिल है, जिसका नाम इसके 708 टेस्ट विकेटों के नाम पर रखा गया है।

381 करोड़ के मालिक शेन वॉर्न

इन सब में शामिल होने के कारण वार्न के पास कमाई के काफी जरिया थे और यही वजह थी कि उनके पास काफी दौलत भी थी। अगर हम शेन वार्न की नेटवर्थ की बात करें तो सेलिब्रिटी की कमाई की जानकारी देने वाले ‘सेलिब्रिटी नेट वर्थ’ के मुताबिक इस महान ऑस्ट्रेलियाई स्पिनर की कुल संपत्ति करीब 50 मिलियन डॉलर यानी 381.86 करोड़ रुपए थी। उन्होंने ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के लिए खेलने, आईपीएल में खेलने, कमेंट्री प्रोजेक्ट और अपने जिन ब्रांड सहित कई अन्य स्रोतों से अपना भाग्य बनाया।

एशेज से वर्ल्ड कप तक चला जादू

145 टेस्ट मैचों में 708 विकेट के साथ दुनिया के सबसे सफल गेंदबाजों में से एक शेन वार्न ने ऑस्ट्रेलिया के साथ 1999 का विश्व कप भी जीता था। उन्होंने फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ 3 विकेट लिए और प्लेयर ऑफ द मैच बने। इसके अलावा उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट में सबसे ज्यादा 195 विकेट लिए और कई बार एशेज सीरीज जीतने में ऑस्ट्रेलिया की मदद करने में अहम भूमिका निभाई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here